Beti Bachao Beti Padhao Scheme: Online Application Form | Eligibility

0
833
Beti Bachao Beti Padhao Scheme

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना: ऑनलाइन आवेदन पत्र | आवेदन पत्र, पात्रता

रीना शर्मा द्वारा 12 अक्टूबर 2021

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना| बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2021 | प्रधानमंत्री बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना | बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना फॉर्म

देश की बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए सरकार द्वारा समय-समय पर अनेक योजनाएं चलाई जाती हैं। हम आपको इन्हीं में से एक योजना के बारे में जानकारी देंगे जिसका नाम है बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना। बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 22 जनवरी, 2015 को शुरू की गई थी। इसकी घोषणा हमारे प्रधान मंत्री राष्ट्र श्री नरेंद्र मोदी ने की थी। इस लेख में, आप बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के बारे में सभी आवश्यक विवरण प्राप्त करने में सक्षम होंगे। उदाहरण के लिए, आप बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के बारे में वास्तव में क्या जानते हैं, इसका उद्देश्य क्या है और साथ ही इसके लाभ, विवरण, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन इत्यादि। इसलिए, यदि आप योजना के बारे में पूरी जानकारी की तलाश में हैं, तो आप इस लेख को करीब से देखना चाहिए।

विषयसूची

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2021

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ लड़कियों को भी मिलेगा

जमा की जाने वाली राशि और साथ ही वापस की जाने वाली राशि

बेटी के बैंक खाते में हर माह 1000 रुपये डालने की स्थिति में

यदि आप रुपये जमा करते हैं। बैंक खाते में सालाना 1.5 लाख

बीबीबीपी योजना की मुख्य विशेषताएं

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तहत फर्जी योजना-चेतावनी

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना चेतावनी

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना का उद्देश्य

बीबीबीपी योजना के लाभ

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए पात्रता

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के दस्तावेज

मैं कैसे आवेदन करूं बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना कैसे लागू करें?

मैं बीबीबीपी योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करूं?

संपर्क जानकारी

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2021

इस योजना में बच्चे के माता-पिता को किसी भी राष्ट्रीय बैंक या डाकघर में बच्चे के लिए एक बैंक खाता स्थापित करने की आवश्यकता होगी। इस योजना में, बच्चे के 14 वर्ष की आयु तक बैंक में खाता खोलने के क्षण से शुरू होकर उन्हें एक निश्चित राशि बनानी होगी। बैंक खाता बेटी के जन्म के दिन कम से कम 10 बजे तक खोला जाता है। बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना हमारे देश की लड़कियों के जीवन स्तर में सुधार लाने और उनके उज्ज्वल भविष्य में मदद करने के लिए शुरू की गई थी। बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना में, माता-पिता को लड़की के 14 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक राशि का भुगतान करने की आवश्यकता होती है। लड़की के 18 वर्ष की आयु होने पर राशि का 50% निकाला जा सकता है। लड़की के 21 साल की होने पर बेटी की शादी के लिए इस्तेमाल की जाने वाली पूरी राशि निकाली जा सकती है।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना

सुकन्या समृद्धि यज्ञ का लाभ लड़कियों को भी मिलेगा

आप जानते हैं कि बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना एक सफल योजना है जिसे बालिकाओं के भविष्य की संभावनाओं को सुरक्षित करने के लिए संघीय सरकार द्वारा शुरू किया गया था। वर्तमान में, केंद्र सरकार दस वर्ष तक की आयु की लड़कियों के लिए बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के साथ राष्ट्र की बालिकाओं की पेशकश करती है। समृद्धि का अवसर प्रदान करता है। देश में लड़कियां सुकन्या समृद्धि योजना के साथ-साथ बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना का लाभ उठा सकती हैं।

जमा की जाने वाली राशि और साथ ही वापस की जाने वाली राशि

बेटी के बैंक खाते में हर माह 1000 रुपये डालने की स्थिति में

BBBP योजना 2021 के तहत अगर आप हर महीने 1,000 रुपये या हर साल 12000 रुपये अपनी बेटी के खाते में बैंक में जमा करते हैं, तो आप 14 साल में कुल 1,68000 रुपये जमा करेंगे। खाता परिपक्व होने के बाद, 21 वर्ष की आयु में खाते में 6,07,128 रुपये की राशि आपके बच्चे के लिए दी जाएगी। आप इस राशि का 50% उसके 18वें जन्मदिन पर निकाल सकते हैं। और बाकी को बेटी की शादी के समय निकाला जा सकता है।

जब आप रुपये जमा करते हैं। बैंक खाते में प्रति वर्ष 1.5 लाख

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना 2021 के अनुसार अगर बेटी के बैंक खाते में हर साल 1.5 लाख रुपये जमा होते हैं तो आपको 14 साल की अवधि के लिए बेटी के खाते में कुल 21 लाख रुपये मिलेंगे। इनमें से 72 लाख खाते की समाप्ति तिथि के बाद आपकी बेटी को दिए जाएंगे।

बीबीबीपी योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नाम बेटी बचाओ बेटी पढाओ

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा उनके द्वारा शुरू किया गया

लॉन्च की तारीख 22 जनवरी 2015

लक्ष्य लड़कियों के जीवन स्तर में सुधार करना

विभाग महिला एवं बाल विकास मंत्रालय

आधिकारिक साइट https://wcd.nic.in/

“बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना” नाम से फर्जी योजना की चेतावनी

जैसा कि आप जानते हैं देश के राष्ट्रपति, श्री नरेंद्र मोदी ने देश की बेटियों की मदद करने और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए अपनी बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना की शुरुआत की है। योजना की लोकप्रियता को देखते हुए जालसाज भी इस योजना का लाभ लेने लगे हैं। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की ओर से पूरी आबादी को यह स्पष्ट कर दिया गया है कि वहां

कई संगठन, वेबसाइट और अन्य संगठन हैं। जो कि बेटी बढ़ाओ बेटी पढाओ योजना में नकद प्रोत्साहन कार्यक्रमों की आड़ में प्रपत्रों का प्रसार कर रहे हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना चेतावनी

बता दें कि इस प्लान में कोई कैश इंसेंटिव नहीं है। पूरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक तस्वीर वायरल हो गई है और दावा किया जा रहा है कि इस योजना के तहत सरकार द्वारा 200000 रुपये की राशि दी जाएगी। मैं आपके साथ ईमानदार रहूंगा और कहूंगा कि यह सच नहीं है। अगर कोई आपको यह बताकर फॉर्म बेच रहा है, तो आप जिस व्यक्ति के साथ काम कर रहे हैं वह एक धोखाधड़ी है। उसके दावों पर विश्वास न करें।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना का उद्देश्य

आप जानते हैं कि लड़कों और लड़कियों की तुलना में लड़कियों की संख्या घट रही है। लड़कियों को बोझ समझा जाता है इसलिए उनकी भ्रूण हत्या कर देनी चाहिए।

इस मुद्दे को देखते हुए इस मुद्दे को हल करने के लिए, केंद्र सरकार के माध्यम से बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना शुरू की गई थी। इस योजना से सरकार को उम्मीद है कि लड़कियों का भविष्य उज्ज्वल होगा और उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी। कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए यह योजना। बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना की शुरुआत के माध्यम से लिंगानुपात को रोका जा सकता है, और लड़कियों के साथ समान व्यवहार किया जा सकता है।

बीबीबीपी योजना के लाभ

इस योजना का लाभ लेने के लिए अपनी बेटी के जन्म के समय से लेकर 10 साल की उम्र तक के लिए बैंक खाता शुरू करें।

यह कार्यक्रम लड़कियों की सुरक्षा और शैक्षिक आवश्यकताओं को सुनिश्चित करने के लिए एक शानदार कार्यक्रम है।

इस योजना से देश में कन्या भ्रूण हत्या को रोका जा सकता है।

इस बीबीबीपी योजना 2021 में, सरकार लड़कियों को उनकी शिक्षा के साथ-साथ शादी में मदद करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

लड़कियों और लड़कों के बीच भेदभाव कम होगा।

इस कार्यक्रम में आपको आपके द्वारा जमा की गई राशि के साथ-साथ राज्य द्वारा प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता से पुरस्कृत किया जाएगा।

यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको इसके लिए आधिकारिक साइट के माध्यम से आवेदन करना होगा।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए पात्रता

इस योजना के तहत पात्र होने के लिए लड़की की आयु कम से कम 10 वर्ष होनी चाहिए।

सुकन्या समृद्धि खाता बेटी के नाम से खुलवाना होगा।

बेटियों को भारत में स्थायी रूप से निवासी होना चाहिए।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के दस्तावेज

आधार कार्ड

माता-पिता का पहचान पत्र

बेटी का जन्म प्रमाण पत्र

मोबाइल नंबर

सबूत को संबोधित करें

पासपोर्ट साइज फोटो

मैं बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए आवेदन कैसे करूं?

क्या आप देश के लाभार्थी होने के इच्छुक हैं जो इस बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो योजना का लाभ उठाने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

पहला कदम महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचने के बाद और फिर आपके सामने मुख्य पृष्ठ दिखाई देगा।

इस पेज के होम पेज पर आपको महिला अधिकारिता योजना के लिए साइन अप करने का विकल्प दिखाई देगा। इस विकल्प को चुनें।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना

अगला पेज आपके सामने प्रदर्शित होगा। इस पेज पर आपको बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के विकल्प का चयन करना होगा। फिर, आपके कंप्यूटर की स्क्रीन पर एक नया पेज दिखाई देगा।

एक बार जब आप निर्देशों को पढ़ लें, तो उन्हें अच्छी तरह से पढ़ें और फिर बताए गए तरीके से आवेदन करने की प्रक्रिया का पालन करें।

मैं बीबीबीपी योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे कर सकता हूं?

पहला कदम सभी दस्तावेजों को निकटतम डाकघर या बैंक में लाना है। फिर, आपको इस योजना में खाता शुरू करने के लिए बैंक से आवेदन पत्र प्राप्त करने होंगे। आवेदन फॉर्म भरने के बाद आपको पूरा फॉर्म भरना होगा। सभी विवरण भरने के बाद आपको आवेदन पत्र में सभी आवश्यक दस्तावेजों को शामिल करना होगा। फिर, आपको इसे डाकघर या बैंक में वापस करना होगा। इस तरह आपकी बेटी इस योजना में भाग लेने के योग्य हो जाती है। बेटी बचाओ बेटी पढाओ कार्यक्रम।

संपर्क जानकारी

इस लेख में, हमने आपको इस बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के बारे में सभी आवश्यक जानकारी दी है। यदि आप किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आप यहां दिए गए लिंक के माध्यम से संबंधित विभाग से संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here