सीबीएसई: वर्ष 1975 से 2004 तक की बोर्ड परीक्षा की मार्कशीट एक क्लिक पर मिलेगी

0
1049

सीबीएसई जल्द ही साल 1975 से 2004 तक के परीक्षा डेटा को डिजिटाइज करने जा रहा है। ऐसे लोगों को अब एक क्लिक पर यह सब घर बैठे ही मिल जाएगा। अब तक वर्ष 2004 से 2021 तक कक्षा X-XII के परिणाम की जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध है।

2004 से पहले केंद्रीय माध्यमिक विद्यालय बोर्ड (सीबीएसई) से दसवीं और बारहवीं की परीक्षा देने वाले पूर्व छात्रों को अब अपनी मार्कशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट और गो सर्टिफिकेट के लिए बोर्ड में नहीं जाना होगा। ऐसे लोगों को अब एक क्लिक पर घर बैठे यह सब मिल जाएगा।

सीबीएसई 1975 से 2004 तक डेटा का डिजिटलीकरण करने जा रहा है

सीबीएसई जल्द ही वर्ष 1975 से 2004 तक परीक्षा के आंकड़ों का डिजिटलीकरण करने जा रहा है। अब तक, वर्ष 2004 से 2021 तक कक्षा X-XII का परिणाम डेटा ऑनलाइन उपलब्ध है।

मार्कशीट व कागजी कार्रवाई कराने में बचेगा समय

सीबीएसई की परीक्षा पास करने वाले पूर्व छात्रों के साथ अक्सर ऐसा होता है कि उन्हें नौकरी या किसी अन्य काम के लिए कागजी कार्रवाई की जरूरत होती है, लेकिन खो जाने के कारण वे कागजी कार्रवाई नहीं कर पाते हैं। ऐसे में उन्हें बोर्ड से डुप्लीकेट कागजी कार्रवाई दूर करनी चाहिए। डुप्लिकेट पेपरवर्क प्राप्त करने में अतिरिक्त समय लगता है।

ऐसे में बोर्ड ने छात्रों के हित में 1975 से 2004 तक की परीक्षा संबंधी दस्तावेज ऑनलाइन करने का फैसला किया है। यह सब वहीं डिजिलॉकर में बनेगा। इसके साथ ही बोर्ड द्वारा परीक्षा परिणामों से संबंधित दस्तावेजों को सुरक्षित रखने के लिए ट्यूटोरियल ब्लॉक चेन तकनीक का उपयोग किया जाएगा।

सीबीएसई आईटी और चुनौती निदेशक अंतरिक्ष जौहरी के अनुसार 2004 से 2021 तक के परिणाम की जानकारी ऑनलाइन दी गई है। अब 2004 से पहले के आंकड़े ऑनलाइन बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वहां जल्द से जल्द यह सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। डिजिलॉकर में वर्ष 1975 की जानकारी दी जाएगी।

बोर्ड ने 2004 में डिजिटल ट्यूटोरियल रिपोजिटरी (अंतिम परिणाम मंजूषा) तैयार किया था। इस दौरान दसवीं से बारहवीं तक के परिष्कार के परिणाम डिजिटल प्रकार में हैं। अब 1975 के बाद के दस्तावेज़ को डिजिटाइज़ करने का काम चल रहा है और इसे एक साल में रिपॉजिटरी में जोड़ा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here